Posts

Showing posts from October 17, 2018

फ़ासला रक्खा, प हर रोज़ मुझे याद किया

फ़ासलारक्खा, पहररोज़मुझेयादकिया उससितमगरनेअनोखासितमईजादकिया
वक़्तकेहाथोंसेइफ़्लासजोमजबूरहुआ हरगुनहदिलनेपस-ए-ग़ैरत-ए-अजदादकिया
दिलतोजलतारहेलेकिननधुआँउठपाए